चाचा शहर से बाहर गये तो चाची को उनके ही कमरे में रगड़कर चोदा

हेल्लो दोस्तों, मैं प्रिन्स बिशनोई आप सभी का नॉन वेज स्टोरी डॉट कॉम में बहुत बहुत स्वागत करता हूँ। मैं पिछले कई सालों से नॉन वेज स्टोरी का नियमित पाठक रहा हूँ और ऐसी कोई रात नही जाती तब मैं इसकी रसीली चुदाई कहानियाँ नही पढ़ता हूँ। आज मैं आपको अपनी स्टोरी सूना रहा हूँ। मैं उम्मीद करता हूँ कि यह कहानी सभी लोगों को जरुर पसंद आएगी। ये मेरी जिन्दगी की सच्ची घटना है।

loading...

दोस्तों मेरे सुमेर चाचा की नई नई शादी हुई थी। मेरी एक मस्त मस्त चाची आई थी जो बहुत खूबसूरत थी। मैं तो उनकी जवानी और रूप रंग को देखकर बिलकुल पागल हुआ जा रहा था। चाची का बदन इकदम भरा हुआ था और क्या मस्त पतली कमर थी उनकी। मेरे चाचा रात में अक्सर देर से घर आते थे क्यूंकि वो अपनी कम्पनी में ओवरटाइम करते थे। चाची रात में बस घडी देख देख पर इन्तजार करती थी। जब चाचा घर आते थे, चाची उनको खाना परोसती उसके बाद दोनों जमकर चुदाई करते थे। धीरे धीरे चाची को चाचा का लंड खूब पसंद आने लगा और खूब चुदाई उन लोगो की होने लगी। चाचा अभी बच्चे पैदा नही करना चाहते थे क्यूंकि बच्चे हो जाने के बाद चाची का प्यार बट जाता और बच्चे की तरफ हो जाता। इसलिए चाचा अभी कुछ सालों तक मेरी जवान चाची के मस्त मस्त दूध पीना चाहते थे और उनकी भरी हुई चूत [गुजिया] मारना और खाना चाहते थे। रात से सुबह तक चाची के कमरे से “आआआअह्हह्हह……ईईईईईईई….ओह्ह्ह्हह्ह….अई..अई..अई…..अई..मम्मी….” की आवाजे आती रहती थी। जब मैं इस तरह की गर्म गर्म आवाजे सुनता था तो दिल करता था की सब नाते रिश्ते छोड़कर बस चाची को जाकर कसके चोद लूँ। उनका फिगर ही इतना मस्त था की किसी भी मर्द का लौड़ा खड़ा हो जाता अगर वो एक बार मेरी चाची को देख लेता।

साल भर तक चाचा ने चाची को खूब बजाया। उनको चोद चोदकर उनकी बुर फाड़ दी। फिर चाचा को एक महीने के लिए उनके बोस ने नागपुर भेज दिया। चाचा का मन तो नही था पर नौकरी तो करनी ही थी। इसलिए वो अपने दिल पर पत्थर रखकर नागपुर चले गये। इधर जैसे ही रात होती चाची नंगी हो जाती और अपनी चूत में ऊँगली करने लग जाती। मैंने चाची को ऐसा करते कई बार देखा था। मुझसे रहा ना गया। मैं अपनी खूबसूरत और जवान चाची की बुर चोदना चाहता था। मैं वासना और कामुकता से पागल हो रहा था। मुझे अब हर हालत में अपनी जवान और खूबसूरत चाची की बुर चोदनी थी। मैं गया और मैंने रात के ११ बजे चाची के दरवाजे पर दस्तक दे दी। रोज की तरह चाची आज भी नंगी थी और अपनी चूत में खुद ही ऊँगली करके फेट रही थी।

“चाची… दरवाजा खोलो! मैं प्रिंस!!” मैंने आवाज लगाई

आनन फानन में चाची साड़ी पहनकर किसी तरह आई और दरवाजा खोला।

loading...

“चाची!! मुझे मारना चाहती हो तो मार लो, पर मैं आपको रात में भरपूर मजे दे सकता हूँ। कभी काम पड़े तो मुझे बुला लेना!!” मैं कहा

“भाग यहाँ से….हरामखोर कहीं का!!” चाची बोली और मेरे मुंह पर दरवाजा बंद कर दिया और अंदर चली गयी। मेरा काम हो गया था। भले ही मुझे २ थप्पड़ पड़ गये हो पर आज चाची को चलो ये तो पता चल गया कि उनका भतीजा उनको कसके चोद सकता है और चाचा की कमी पूरा कर सकता था। मैं जानता था की एक चुदासी औरत लंड पाने के लिए कुछ ही कर सकती है। एक कामातुर औरत चुदने के लिए कुछ भी कर सकती है। मैं सोया नही। जगता रहा। उधर चाची का बुरा हाल था। बार बार वो मेरे बारे में सोच रही थी। “मेरा भतीजा कितना बदतमीज है की कहता है की मेरा काम पड़े तो रात में बुला लेना” चाची खुद ही बुदबुदा रही थी। जैसे जैसे रात बढ़ने लगी चाची को बार बार चाचा के लौड़े की याद आ रही थी।

रात उनको किसी सांप की तरह डस रही थी। उन्होंने साड़ी फिर से निकाल दी और अपनी चूत में ऊँगली करने लगी। पर उनको मजा नही आ रहा था। धीरे धीरे चाची मेरे बारे में सोच रही थी की क्यूँ ना भतीजे को बुलाकर चुदवा लिया जाए। कौन सा किसी को पता चलने वाला है। चाची को सेक्स और वासना की हवस लगी हुई थी। कुछ देर में आखिर वो मेरे कमरे पर आ गयी और मुझे अपने कमरे में बुला ले गयी।

“भतीजे…. तू सही कह रहा है। तेरे चाचा यहाँ नही है तो क्या हुआ। तू तो है। आ.. चोद आकर मुझे!!” चाची बोली

मैं इसी बात का तो इन्तजार ही कर रहा था। मैंने अपने सारे कपड़े निकाल दिए। फिर चाची की साड़ी, ब्लाउस, पेंटी और ब्रा भी निकाल दिया। अब मेरी चाची मेरे सामने बिलकुल नंगी थी। मैंने उसके साथ बेड पर लेट गया और उसने प्यार करने लगा। चाची का नंगा जिस्म इकदम सनी लीओन जैसा था। कितना मस्त और भरा हुआ। सच में दोस्तों मेरी चाची चोदने और बजाने के लिए एक मस्त माल थी। मैंने उनके उपर लेट गया और उसके रसीले होठ चूसने लगे। मेरी चाची साड़ी ब्लाउस में जितनी सुंदर लगती थी उससे कहीं जादा सुंदर बिना कपड़ों के लग रही थी। उसका जिस्म बहुत गोरा और बहुत ही खूबसूरत था। कमर बहुत पतली और सेक्सी थी। क्या मस्त माल थी मेरे चाची। उसके मम्मे तो ३२” के थे, जादा बड़े नही थे और ना ही जादा छोटे थे। पर बहुत ही खूबसूरत और नर्म लग रहे थे।

चाची का पेट, कमर, पुट्ठे, जांघे सब कुछ बहुत मस्त मस्त थे। वो एक गजब का माल थी। मैंने उसके उपर लेट गया था और उसके रसीले होठ चूस रहा था। उन्होंने मुझे बाहों में भर लिया था और सीने से लगा लिया था। हम दोनों होठ से होठ जोड़कर चुम्बन करने लगे। ओह्ह्ह…सायद वो पहली बार किसी गैर मर्द को अपने होठ चूसा रही थी। मैंने उनके कंधे पकड़ लिये और कुछ देर में हम दोनों बहुत आक्रामक और गर्म हो गये। हम दोनों के अंदर चुदाई की आग जल उठी थी। मैं चाची का गहरा चुम्बन लेने लगा। लग रहा था की मैं उसके लबो को खा ही जाऊँगा। वो भी आक्रामक होकर मेरे होठ चूस रही थी। फिर हम दोनों एक दूसरे की जीभ और लार चूसने लगे। मेरा हाथ उनकी चिकनी, पतली, सेक्सी और छरहरी कमर पर चला गया था।

जैसा टीवी में मॉडल्स की बड़ी पतली पतली कमर होती है, ठीक उसी तरह मेरी चाची चाची की कमर थी। मैंने दोनों हाथ उसकी पतली कमर पर रख किये और सहलाने लगा। आज इस माल को मुझे कस के चोदना है, मैं मन ही मन में खुद से कहा। मेरे हाथ उनकी मक्खन जैसी पतली कमर पर जहाँ वहां रेंग रहे थे। उपर ही तरफ हम दोनों एक दूसरे के ओंठ और जीभ चूस रहे थे। हम दोनों की आँखें बंद थी। खुले बालों में मेरी चाची बहुत ही सेक्सी लग रही थी। अब मुझे चाची का पेट दिखने लगा था। मैंने दोनों हाथो से चाची की कमर को पकड़ लिया और सहलाने लगा। धीरे धीरे मैंने उपर की तरफ बढ़ रहा था। हम दोनों को बहुत मजा आ रहा था। मैंने उसके लबो को जी भरकर चूसा और उसके गुलाबी होठो की सारी लाली और कुवारापन चुरा लिया। उनके कबूतरों को देख देख के तो मेरे तोते उड़े जा रहे थे। आज मैं पहली बार चाची को नंगी देखा था। एक बार फिर से मैंने उन्हें पकड़ लिया और सीने से लगा लिया। मुझ पर वासना पूरी तरह से छा गयी। आज तो चाची की चूत मुझे हर हालत में चाहिए थी। मैं पागलों की तरह फिर से चाची को गाल, गले, कंधों पर किस करने लगा। वो भी चुदाई के फुल मूड में थी और मुझे हर जगह किस कर रही थी। उसके बड़े बड़े कबूतर देख के तो मेरा दिल बल्लियों उछल रहा था।

मैंने चाची के ३२” के कबूतरों को मुंह में लेकर चूसने लगा। वो अपनी कमर और सीना उठाने लगी। उसके मम्मे सच में बहुत जादा हसीन थे। ऐसे कबूतर मैंने आज तक नही देखे थे। मैं बार बार उसके मुलायम दूध को हाथ से दबा देता था और मुंह में लेकर पी लेता था।

“भतीजे….आज तुम्हारे चाचा घर पर नही है। उनकी गैर मौजूदगी में अगर आज तुमने मुझे खुश कर दिया तो मैं रोज तुमको चूत दूंगी। पर आज तुमको मुझे पूरी तरह खुश करना होगा!!” चाची बोली

उसके बाद मैं खुद को साबित करने लगा और मन लगाकर उनके दूध पीने लगा। धीरे धीरे मुझे बहुत मजा आ रहा था। चाची ने अपने जिस्म को बेड पर पूरा खोलकर रख दिया था। मैं उनके उपर लेटा हुआ था और उनके कबूतरों को मजे से चूस रही थी। चाची ने मुझे हाथो से कसकर पीठ पर पकड़ रखा था और अपने लम्बे नाख़ून मेरी पीठ में गड़ा रही थी। आज मैं उनको कसकर चोदने वाला था। जिस बुर को मेरे चाचा रोज रात में चोदते थे आज उसी बुर को मैं बजाने जा रहा था। नंगे जिस्म में चाची के काले घने और रेशमी बाल तो जैसे चार चाँद लगा रहे थे। मैंने उसकी चूची को मुंह में भर रखा था और तेज तेज चूस रहा था। चाची “……मम्मी…मम्मी…..सी सी सी सी.. हा हा हा …..ऊऊऊ ….ऊँ…ऊँ…उनहूँ उनहूँ..” की आवाज निकालकर चिल्ला रही थी। उनकी चूचियों का सौन्दर्य अप्रतिम था। मेरे जीभ और होठो की रगड़ से चाची की निपल्स तनकर खड़ी हो गयी थी। उनकी भुंडियों के चारो तरफ लाल लाल बड़े बड़े छल्ले थे जो बहुत ही सेक्सी लग गये थे। मैं मुंह में भरके उनके छल्ले को चूस रहा था। दोस्तों आज मेरी मुराद पूरी हो गयी थी। जिस जवान चुदासी चाची को देख देखकर मैं मुठ मारा करता था आज वो चाची मुझे चोदने खाने को मिली थी। मैं अपने मुंह में रखकर उसकी रसीली गुलाबी चूचियों को चूस रहा था। आज तो मेरी लोटरी लग गयी थी। मैंने ४० मिनट तक चाची की दोनों ३२” की चूचियों को मुंह में लेकर चूसा। मौज आ गयी थी दोस्तों।

उसके बाद मैंने चाची को अपनी कमर पर बिठा दिया और लंड उनकी चूत में डाल दिया। उसके बाद मैंने चाची को अपनी कमर पर बिठा दिया और लंड उनकी चूत में डाल दिया। चाची मेरे लौड़े को चूत में लेकर मेरी कमर पर बैठ गयी। मेरे दोनों हाथ चाची के बूब्स पर चले गये। उफ्फ्फ्फ़….कितने शानदार गोरी गोरी चूचियां थी उनकी। मैंने उनकी चूचियों को हल्का हल्का दबाने लगा। मुझे मजा आ रहा था। मेरी खूबसूरत और जवान चाची इकदम नंगी होकर मेरे लौड़े पर बैठ गयी थी। अब उनकी चुदाई होने वाली थी।

“चाची….चलो अब धीरे धीरे मेरे लौड़े की सवारी शुरू कर दो” मैंने कहा

“भतीजे….इस तरह की ठुकाई मैं अच्छे से जानती हूँ। तेरे चाचा मुझे इस तरह हर रात लेते है!!” चाची बोली

“ओह्ह्ह…इट्स ग्रेट। कमोन फक मी हार्ड!!” मैंने कहा

फिर धीरे धीरे चाची मेरे लंड पर आगे पीछे होने लगी और चुदाने लगी। मुझे मजा आ रहा था। मैंने उनके मम्मो को पकड़े हुए था और हल्के हाथो से दबा रहा था। कुछ देर बाद चाची ने अपनी रफ्तार पकड़ ली और अपनी कमर मटका मटकाकर चुदवाने लगी। वो “…….उई. .उई..उई…….माँ….ओह्ह्ह्ह माँ……अहह्ह्ह्हह…” की सिस्कारे भी निकाल रही थी। वो किसी घोड़ी की तरह मेरे लौड़े की सवारी कर रही थी। उनकी गहरी चूत मेरे लौड़े को पूरा का पूरा खा रही थी। चाची की कमर जल्दी जल्दी नाचने लगी और मेरे लौड़े को चोदने लगे। मैं किसी घोड़े की तरह अपना घोड़ा चाची की रसीली चूत में दौड़ा रहा था। चाची बड़ी हॉट और सेक्सी माल लग रही थी। आज मेरा उनको चोदने का सपना पूरा हो गया था। मैं भी अपनी तरह से उपर की तरह तेज फटके मारने लगा और चाची को चोदने लगा। मुझे बहुत नशा चढ़ने लगा। चाची की लंड पर बैठकर चुदवाने की बड़ी एक्सपर्ट खिलाड़ी साबित हुई थी। वो किसी अंग्रेज लड़की की तरह कमर मटका कर मेरे लंड की सवारी करने लगी। मुझे लंड पर बड़ा मीठा मीठा अहसास हो रहा था। हम दोनों की चुदाई धीरे धीरे परवान चढ़ने लगी।

मैंने चाची के मम्मो को दोनों हाथो से कसकर पकड़ लिया और बड़ी जोर से दबा दिया। “उ उ उ उ ऊऊऊ ….ऊँ..ऊँ…ऊँ अहह्ह्ह्हह सी सी सी सी… हा हा हा.. ओ हो हो….” चाची चिल्लाई। पर मैं रुका नही और गपा गप उनको नीचे ने बजाता ही रहा। मैंने उनके बूब्स को बेदर्दी से निचोड़ दिया था। मेरा लौड़ा बड़ी जल्दी जल्दी उनकी चूत में आ जा रहा था। चाची मेरे लौड़े पर डांस कर करके चुदवा रही थी। आधे घंटे बाद हम दोनों का बदन अकड़ गया और हम दोनों साथ में ही झर गये। चाची बावली हो गयी और चुदवाकर मेरे उपर ही लेट गयी। मैं उनको प्यार करने लगा।

“भतीजे…..आज तूने अपने चाचा की कमी पूरी कर दी। तू बड़ी मस्त ठुकाई करता है!! चाची बोली और मेरे उपर लेटकर मेरे होठ को किस करने लगी। मेरा लंड मुरझा गया था पर अब भी उनकी चूत में घुसा हुआ था। आज चाची ने मुझे बिलकुल मेरी बीबी बनकर मुझे चूत चोदने को दी थी। उनको काले घने बालो ने मेरा चेहरा ही ढक गया था। मैं उनके मुलायम पुट्ठो को अपने हाथ से सहलाने लगा और मजा मारने लगा। कुछ देर बाद मेरा मुरझाया हुआ लौड़ा चाची की चूत से बाहर निकल आया। मैं अभी भी उनके गुल गुल पुट्ठो को सहला रहा था और मजे मार रहा था। फिर चाची मेरे लंड को मुंह में लेकर चूसने लगी। मेरा लंड २ इंच मोटा और ९ इंच लम्बा था। चाची मजे से मेरे लौड़े को चूसने लगी। उनके गुलाबी होठो की छुअन से मुझे कुछ कुछ होने लगा। धीरे धीरे मेरा लंड फिर से खड़ा होने लगा था। चाची के खूबसूरत हाथ और पतली पतली उँगलियाँ मेरे लंड को जल्दी जल्दी फेटने लगी। मुझे मजा आ रहा था। मैं चाची की नंगी पीठ को अपने हाथ से सहला रहा था। चाची को लंड चूसना बहुत पसंद था। वो जोर जोर से मेरे ९ इंची लंड को पूरा का पूरा मुंह में अंदर गले तक ले लेती थी। उनके गुलाबी होठ मेरे मोटे लंड पर सरक रहे थे। वाकई आज मजा आ रहा था। मैं ऐश कर रहा था। दोस्तों किसी भी लड़की से लंड चुस्वाने में विशेष मजा मिलता है। आज मैं वही विशेष मजा ले रहा था।

फिर चाची तेज तेज अपने हाथ ने मेरा लंड फेटने लगी। मैं पागल हो रहा था। “..अहहह्ह्ह्हह स्सीईईईइ….अअअअअ….आहा …हा हा हा” मैं कराहने लगा। फिर चाची लंड चुसाई पर पूरा ध्यान देने लगी और मेरे लंड को उन्होंने अपने मुंह से कसकर पकड़ लिया और होठो से दबाव बनाकर चूसने लगी। मेरी तो जान ही जा रही थी। फिर चाची किसी रंडी, वेश्या और छिनाल की तरह जल्दी जल्दी मेरा लंड चूसने लगी। वो इकदम असली रंडी लग रही थी। आज वो कसके चुदना चाहती थी। वासना और काम की जिस्मानी भूख उनपर पूरी तरह से हावी हो गयी थी। वो आधे घंटे तक तेज तेज मेरे लंड को मुंह में लेकर चूसती रही और मेरे लंड ने मंजन करने लगी। कुछ देर में मैंने अपना माल उनके मुंह में छोड़ दिया। दोस्तों १० दिन बाद मेरे चाचा नागपुर से लौड़े और १० दिन तक मैंने रोज रात में अपनी जवान चाची की बुर चोदी। कहानी आपको कैसे लगी, अपनी कमेंट्स नॉन वेज स्टोरी डॉट कॉम पर जरुर दे।

loading...

Hindi Sex Story

Hindi Sex Stories: Free Hindi Sex Stories and Desi Chudai Ki Kahani, Best and the most popular Indian top site Nonveg Story, Hindi Sexy Story.


Online porn video at mobile phone


Holi boobs rang mmsnandoe ne sohte huwe codda sexy storemast chudai mall dukan me kahanichacha sasur se apne aam chuswaye sex storyचुत बडी चुदाकर भोषणा हैSexystory maa ne kaha bhen ki fude maqbathroom me chad chad kr kiya pregnent sex story in hindiसेक्स मुस्लिम ताई चुदाई की कहानी हिंदी मेंज्योति की दानेदार चुत की गरम चुदाईनाना से चुतमरवाई Tait pejame wali sexy Indian gharil xxxसर ने मुझे कोचिंग के बाद चोदागांव की दुकान में बुरNanbej stori dad come Hindi chudai kahaniyapahli सुहागरात jamidar ne karj n chukane ki हिंदी storyदौ लङकीयो कि आपस कि चुदाईठाकुर साबने चुदवाने के लिये बुलायाबिबि को वैश्या बनाया complete rajsharma storylikee हिंदी में बात करते हैं dupatte xnxx वीडियोVidhwa mousi ko patak patak chodashardar ke bibi ka Bur chodai xxx story hindivanshika ko land chusaya sex storiessas ko jab jsati coda xxxबिबि कि मदद चुदाई काहानीशराबी ने जबरदस्ती भाभी का दूध पियाउठा patak वाली चुदाई हब्शी से पति ne पटनी ko karai हिन्डे सेक्स कहानीHindi me akeli chut ki khub sare lundo se bhayanak chudai ki kahanisadi sudh behn ko uske ghr jke choda sxy storyporn video meri didi ki chudhi ganne ka khate ma hindi khaniyabhanji k saat sex storya hindiApne bacche ki Bhookh ke liye sex jabardasti BF video Jism ko bechaXXX MOM VIDVA MOTA LAND HINDE STORYचुते मे लेड फट बठने हेantarvasana bhai bahen or patiholi me pela peli ki kahanixxxसहेली का प्यारWidva bhanchodai hindiMaa ne bete se chudvakar sex ka maja liyabiwi ka shadi se pahle gangbang hindi storiesapni.maa.ko.choda.pargnet.kiya.fhir.sadi.kiya.hindi.khani.comबकरे से चुदवाकर मिटाई चूत की हवश Sexy storychud.gai. bhuraniलंन्ड बढायेmastr mastarain ka xxxTichar ki xxx chudai sahiry and kahniBetisexstoryhindi chache ke codae videosबूर की सच्ची कहानीदादा ने फिर चोदा सेकसी हट कहनीandhere me sashur ne chodai ki kahniगाव के जमीदार की चुदाई कहाणीsaxyantervasnasexy suhagraat seal juice Tuti Hai Kaun Bataye wala sexyxxxचुत चोदते लडकि का ओपेन फोटोSahali ko muta marna sikaya stoarybulu film broder ND sister नींद mebahan ki jalidar bra bagal ke बाल सेक्स कहानीbeti ki samuhik chudai yum storyपापा ने दौस्त से मेरि चूत मरवाईsex कहानी मराठी मधून मम्मी बेटामाँ की चुदाई मेरे सामनेसास दामद भाई बहन ओपेन सेकसी बिडीओsexistoriesderaniमा की चुदाई पराये लन्ड से कथाKhet me bhaishi ki chudae hindi sex kahaniyabyta ni maki codaiyoni me chut me sex ke savedan sil ang hsali ne galidekar chudwayi Hindi Store comma ko jabarjasti choda pura ghor me kichan me chudai kahaniThandi Mein Daru pi ke man beta sexy kahani Hindi mujhe aur meri ma ko tau ji ne chodaantervasna mom ki pyaasi chutbhabhi ko uloo banakar chodaOdl malkin naukar marathi sex storychoti bahin aor nigro ki sexi kahaniyaHindi priwarik chudai kahani with Widhwa Chachi पत्नी आपस में बदलकर गांड फाडू चुदाई कहानियांAntar।wasna।bedhwa sas।or।damad।sex।story2 NOVEMBER 2019 TAK KI HINDHI NEW SEXY KHANIYAQuora.com bahen ke kapade kaise utare sote samay sex tipssex stories haramiyo se jbrdastiapne bahan ko sadi ke bad trian me chudai kiya hinadi kahani .comहिंदी sexy स्टोरीसिस्टर को ले जाकर होटल में चोदाvideo xxxxTwo sister non vaj xxxstoryपापा ने लम्बे मोठे लैंड से चुत फड़ी पूरी रात छोडा कहानीindain bahbi afferदेसी सोन ब्लैकमेल माँ कामुकता storyWidhwa ma ko chod kr pregnant kiya phir shadi ki phir suhagraat bnayijija sex kahni dotkom hinरक्षाबंधन पर बहन कि बुर फाड़ दी सेक्स storyएक्स वीडियो मां को गाड़ी सिखाने के बहाने चोदाsexy family storebehan mummy bau in hindiantarvasna mother fuck stpriesमां बेटा दीपावली बाथरुम जबरदसती कीया xxx pornसासु को bra penti में चोदाsex porn deshiHoli mein dost ki biwi ne bola rang nahi lagayenge hindi sex story