loading...

दामाद के बच्चे की माँ बनने बाली हु : मेरी सेक्स कहानी

loading...

मैं राधिका वर्मा, दिल्ली से, आज मैं आपको अपनी एक सच्ची कहानी बताने जा रही हु ताकि मैं अपने मन को हल्का कर पाऊं, मेरे प्यारे दोस्तों कभी कभी ज़िंदगी में कुछ ऐसा हो जाता है जिसको ना करते हुए भी करना पड़ता है, चाहे वो गलत ही क्यों ना हो, आप में से भी कई लोगो के सामने ऐसी स्थिति आई होगी जिसको नहीं चाहते हुए भी गलती कर बैठे, और कई बार तो ऐसे रिश्तों में हो जाता है जिसको भारतीय समाज में अलग दृष्टि से देखि जाती है, आज मैं आपको अपनी एक ऐसी ही कहानी कहने जा रही हु,

मैं 36 साल की हु, और विधवा हु, आप सोच रहे होंगे की 36 तो हां मेरी शादी 16 में ही हो गई थी, और और मैंने अपनी बेटी की शादी इसी साल ही की, मुझे और कोई संतान नहीं था सिर्फ बेटी के अलावा, मेरा दामाद गुडगाँव में एक कॉल सेंटर में मैनेजर है, मेरी बेटी एक पब्लिक स्कूल में नौकरी करती है, घर पे मैं होती हु, बेटी सुबह 7 बजे ही चली जाती है और 4 बजे शाम को आती है, मेरा दामाद दिन में ३ बजे जाता है और रात को २ बजे आता है.

जब मेरी बेटी 8 साल की थी तभी मेरे पति का देहांत हो गया, मैं बहुत ही खुले विचार की महिला हु, मैं ना तो अपनी बेटी को किसी चीज की कमी होने दी ना तो मैं कभी ऐसे रही की मैं एक विधवा हु, पर मैंने कभी किसी के साथ सेक्स नहीं किया था, पति इतना पैसा छोड़ के गए थे उससे अभी तक की ज़िंदगी काफी आराम से चल रही थी, पर जब से दामाद घर जमाई बना तब से काफी कुछ चेंज हो गया. कैसे मैं आगे बताती हु,

एक दिन मैं किचन में काम कर रही थी, बेटी मेरी जॉब पे गई थी, सुबह से आठ बज रहे थे मेरा दामाद अनिल उठा और किचन में आया और मुझे गले से लगा के हैप्पी बर्थडे मम्मी जी कहा, मेरे आँख से आंसू छलक गए, क्यों की इसी तरह से मेरे पति भी मुझे बर्थडे विश करते थे, मैं थोड़ी नरवश हो गई और रोने लगी, मेरा दामाद मुझे गले से लगाए रखा, मुझे बहुत अछा लग रहा था पर मैंने महसूस की की मेरी छाती उसके छाती से चिपक रही थी और ब्लाउज से बाहर आने लगी मेरा आँचल भी निचे गिरा हुआ था, और अनिल ये सब देख रहा था, मैं शर्मा गई और अपने पल्लू को ठीक की, मैं अपने दामाद को थैंक्स कहा,

loading...

उस दिन मैं दिन भर सोचते रही कैसे वो मुझे अपने सीने से चिपकाये हुए खड़ा था क्यों की काफी दिनों के बाद मुझे किसी मर्द ने स्पर्श किया था वो भी इस तरह से, सच पूछिये तो मेरा मन डोल गया और मेरे मन में कई सारे विचार आने लगे, ऐसा लगा की रेगिस्तान के पेड़ में किसी ने पानी डाल दिया और वो पौधा धीरे धीरे लहलहाने लगा, वही मेरे साथ भी होने लगा, उस दिन मेरे मन में अजीब सी कौतुहल थी, पर आगे सिर्फ मेरे तरफ ही सिर्फ नहीं थी उधर भी था, अनिल जब भी सुबह सुबह उठता अब वो गुड मॉर्निंग कहके, मुझे अपने गले से लगा लेता, क्यों की उस समय बेटी होती नहीं थी.

एक दिन अनिल ने गले लगाते हुए मुझसे कहा सासु माँ आप मुझे बहुत अच्छी लगती हो, जब मैं आपको गले से लगाता हु मेरे रोम रोम सिहर जाता है, मेरे दिल की धड़कन बढ़ जाती है, मैं आपसे सेक्स करना चाहता हु, मेरे तो होश हवास उड़ गए पर ये होश उड़ने का नाटक था, मैंने कहा अनिल ये गलत है मैं तुम्हारी सास हु, अगर ये सब ज्योति को पता चलेगा तो क्या कहेगी, अनिल ने कहा सासु माँ देखो मैं आपकी फीलिंग्स भी समझ रहा हु, पर अगर आप मेरे से सम्बन्ध बनाते हो तो हमारे तीनो के रिश्ते और भी प्रगाढ़ हो जायेगा, आप मना नहीं करो प्लीज मैं वादा करता हु आप दोनों को मैं बहुत खुश रखूँगा.

मैंने चुचाप खड़ी थी मेरी नजर झुकी हुई थी, और जब नजर उठाई तो वो हाथ फैलाये खड़ा था, और हम दोनों एक दूसरे को बाहों में सामा गए, मैं उसकी मजबूत बाहों में थी वो मेरी पीठ को टटोल रहा था और हाथ निचे करके मेरी चुतड के उभार को दबाते हुए अपने लण्ड के पास ले गया और मेरे होठ को चूसने लगा, मैं भी समा जाना चाहती थी, आज रेगिस्तान में वारिश हो रही थी, बारह साल के बाद मैं किसी की बाहों में झूल रही थी. हम दोनों एक दूसरे को होठ को इस तरह से चाट रहे थे जैसे किसी प्यासे को पानी मिल गया हो.

उसके बाद मेरे दामाद मुझे उठा लिया और मुझे बेड रूम में लेके बेड पे लिटा दिया और आँचल को निचे कर के मेरे चूच को अपने हाथो से सहलाने लगा, मैं उससे देख के मुस्कुरा रही थी, और बोली ये बात सिर्फ मेरे और आपके बीच में ही रहनी चाहिए, अनिल ने मेरे सर पे हाथ रखा और कहा आप विस्वास करो मैं किसी को नहीं कहुगा चाहे जो भी सिचुएशन हो जाये, और मैंने फिर से उसके होठ को चूसने लगी, अनिल ने मेरे ब्लाउज के हुक को खोल दिया और मेरे चूच को ब्रा के ऊपर से ही दबाने लगा मेरा बड़ा बड़ा चूच ब्रा से निकलने के लिए बेताब थी मैंने खुद ही दोनों को अपने ब्रा से आज़ाद कर दिया, अनिल दोनों को बारी बारी से चूसने लगा और फिर हाथ निचे किया और साडी को ऊपर उठा के मेरे चूत को सहलाने लगा, मैं उस दिन पेंटी नहीं पहनी थी,

मेरा चूत काफी गरम और गीली हो चुकी थी, मैं दो दिन पहले ही चूत के बाल को साफ़ किया था तो अनिल ने कहा आपका चूत तो बिलकुल साफ़ है तो मैंने कहा आपको कैसा चूत पसंद है तो अनिल ने कहा मुझे क्लीन शेव चूत पसंद है मैंने रात को ज्योति के चूत की बाल को खुद अपने हाथो से साफ़ किया है रेजर से. और फिर अनिल निचे जाके मेरी चूत को चाटने लगा. मैं तो बस आअह आआह आआह उफ्फ्फ्फ्फ़ उफ्फ्फ्फ़ कर रही थी . आप ये कहानी नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम पे पढ़ रहे है. मैं पागल हो रही थी मुझे लण्ड चाहिए था, मैंने अनिल के लण्ड को खुद ही निकाल ली और हिलाने लगी फिर मैं अपने मुह में ले ली अनिल का लण्ड इतना मोटा था की मेरे मुह में आ नहीं रहा था अनिल ने मुह को थोड़ा चिर के लण्ड डाल दिया मुझे सांस लेने में भी प्रॉब्लम होने लगी थी मेरे कंठ तक लण्ड जा रहा था.

पर मैं उसके लण्ड को मुह में बर्दाश्त नहीं कर पाई मैं कहा अनिल आज तुम मुझे इतना चोदो की बारह साल की कमी पूरी हो जाये अनिल मेरे टांगो को अलग अलग किया और चूत को चिर के देखा और बोला ओह्ह माय गॉड आपकी चूत तो एकदम लाल है ऐसा लग रहा है आप वर्जिन है, मैंने कहा मत तड़पाओ चोद दो मुझे और उसने मेरे चूत पे लण्ड का सुपाड़ा रखा और लण्ड को चूत में डालने लगा पर चूत के अंदर लण्ड प्रवेश नहीं कर पा रहा था, फिर अनिल में चूत में और लण्ड पे वेसलिन लगाया और जोर से धक्का मार पूरा लण्ड मेरे चूत में समा गया, एक अलग ही आनंद की अनुभूति हुई, मैं अब अपना गांड उठा उठा के चुदवाने लगी.

मेरे मुह से सिर्फ आअह आआह उफ्फ्फ्फ़ उफ्फ्फ्फ़ निकल रहा था और वो मुझे चोदे जा रहा था, करीब वो मुझे १ घंटे तक चोदा मैं पसीने से तर वतर हो गई थी, अब मैं पूरी तरह से संतुष्ट थी मैं तीन से चार बार झड़ चुकी थी, अनिल एक गहरी सांस लेते हुए और और जोर से आआअह की आवाज करते हुए सारा माल मेरे चूत के अंदर ही डाल दिया और दोनों एक दूसरे को पकड़ को सो गए, फिर क्या था रात मेरी ज़िंदगी काफी अच्छी कटने लगी, मैं सुबह होने का इंतज़ार करती थी कब सुबह हो और अनिल मेरी बाहों में हो, क्यों की वो रात को मेरी बेटी के साथ सोता था मैं तो दिन की थी.

पर इस महीने गड़बड़ हो गया है, मैं घर में किट लाके चेक की मैं प्रेग्नेंट हु, क्यों की आठ माहवारी हुए आठ दिन हो गए है, किट में पॉजिटिव है, क्या करूँ अब तो मैं अपने दामाद के बच्चे की माँ बनने बाली हु, क्या करूँ समझ में नहीं आ रहा है,

Hindi Sex Story

Hindi Sex Stories: Free Hindi Sex Stories and Desi Chudai Ki Kahani, Best and the most popular Indian top site Nonveg Story, Hindi Sexy Story.

Comments are closed.


Online porn video at mobile phone


भाभी विधवा चूदाई के फेस बुक पर दोसतीबहन के चूतरजेट जी को अपना आशीक बनाया चुत चुदवायीमामा की तबीयत खराब थी मामी की चुत मारीtechar ke sarepresani dur ke sexystoremota pacha sexy stoqis in hindiGand fadne vale cutkle sexywww antarvasnasexstories com hindi sex story vasna pati se bewafai part 2gowa xxx gral ki vido khaniआशा चाची ने माँ को अपने भांजे से चोदवायाwww.com.niturani sex hindihindi the hati sexy video porn diwali curlसिस्टर की डबल धमाल चुदाईमाँ कौ होटल मे गांड मारा कहानीHindi sex kahani antrvashna देवरानी जेठानी को नोकर ने मोठे लुंड से चोदजेठ जी ने लंड का तोहफा दिया चुत फाड़ केमामा माँ मोशी कहानी Xxx बेटाbhaiya sab bhai bahan karte h pls kro na porn storyMaa ko gaand marate pakra storisMOSIKI XXXSEXI KAHANIHindi me akeli chut ki khub sare lundo se bhayanak chudai ki kahaniसेक्स कहानी हिन्दी जिजा.comChote bhi ko nanaga kiya sex storysexi hindi chudai kahaniya vidhwa bahen ko goa medidi ko kali se phool banaya Sex hindi kahaniपत्नी की आदला बदली रंडी के साथ कहाणीlipstick Laga Ke Saj Dhaj Ke shadi wali sexy video BF chudaihindi sex kahani raksha bandhan ke din soutali badi behen ne choudana sikhaya sex kahaniसाली ओर जीजी की सेकसी वीडीयोSaxstoryskamuktaपारिवारिक रंडियों का गैंगबैंग सेक्स स्टोरीhoneymoon PR Biwi ki wine pila kr chudie ki hindi sexy storieschudaisexkahanikamukta holi college girl ko hotal me daru pilakar choda kahaniantarvasana bhai bahen or boss rubee singमराठी सासू सेक्सी कथासबसे ज्यादा शेक्शी जी के ट्यूशनsasur ne chut ka peshab pikar chudai kiya kahaniचुदक्कड़ जेठ बुरचोद देवरानीपतिं और सास एक सात saxe kahanekhota xxxxx story readingभाभी की सील तोड़ने की सेक्सी सटोरियों आडीयोखानदानी पत्नी की चुदाई कहानियांDade ko घोडी Banakar choda sexcy kahani readdidi va leya xxx kahaneya hindeAntarvasna. माँ. गर्लफ्रेंड बनाया माँ विडियो हिन्द चड्डी bodiesदेसी सेक्ष्य गन्दी कहानिया एंड पिछचचेरे भाई ने रक्षाबंधन को भी जमकर च** फाड़ी कहानी हिंदी मेंjab maine vidhwa mausi ko mutte dekhaलम्बी कहानियाँ चूदाई कीBap.beti.ki.chudaisas.damad.ki.chudaiदीदी भाई की hot sax बिमारी की desiकहनीnonvage sex stopy ma betavileag moti gand ki sex storis in hindiMummy barsat me chudwaya auto me storymadam bani padosan storiessaas damad sexy kanhiyrakhail devar kinew sil torane par khun bahanasalwar me bahan aur uski nanad ko holi me pela hot sexy storyभाई आज तो चूत खुजलाने लगीबडी आन्टी की बडी गाँड कुल्ला मसल के चोदीगांव की दुकान में बुरपतिव्रता पत्नी को गैर मर्द ने चोदा और पति ने देखा हिंदी सेक्स कहानीsistar5 salki chodai kahaniजवान बेटे ने जवान मां की रसीली ब** को फील के और चूची का दूध पीने का वीडियोbhaiya ka maine ilaj kiya sex storynewsexstory com hindi sex stories E0 A4 AD E0 A4 BE E0 A4 AD E0 A5 80 E0 A4 A8 E0 A5 87 E0 A4 AE E0bidhawa sali ko apna banake coda hindi sexy storyNev hindi sex stores घर मे माँ सबसे चुदति हेbhanji.ko.apni.randi.banaya.kahaniDaru pee ke baap beti aur naukrani ki ek sath chudai ki kahaniyaभाभी विधवा चूदाई के फेस बुक पर दोसतीसेक्स स्टोरी मम्मी को चोदा उसकी बिजनेस पार्टनरmami ji ke sath cond laga ke sex storyjeth Ji Ki Rakhle Bani Antarvasnathakuro ki suhagrat sex storiesAntervasn हिंदी में new brother and sistermuth marta pakda gaya sexy storymausa ki randi rakheil baniबुर मे लँड पेलने का फोटो बुर कि जबरदसत पेलाई का फोटो बारिश दूध पियो कहानी चुदाई khetविधवा मौसी चुत कि कहानिninvegsexstorixxx beta n apne maa ko bahlakar chudai ki videos. comपाॅच-पाॅच लंड एक साथ गृपसेक्सगोरी बिवी को रखेल बनाया।sexbuha storysali devar ka langa photo xxxwww.xxx. Aurat Ki Khwahish Puri Kaise ki Ja sakti hai dotkom